X Close
X
9935100006

80 किलो वजनी 100 साल का कछुआ बना 800 बच्चों का पिता


Lucknow:कैलिफोर्निया : 80 किलो वजनी 100 साल के एक कछुए ने विलुप्ति की कगार पर पहुंची अपनी पूरी प्रजाति को बचाने में अहम उपलब्धि हासिल की है। डिएगो नामक इस कछुए ने एक-दो नहीं, 800 कछुओं के जन्म में बड़ी भूमिका निभाई। डिएगो चेलोनोएडिस हूडेनसिस नामक प्रजाति का है। करीब 50 साल पहले सिर्फ दो मेल कछुए और 12 फीमेल कछुए ही बचे थे। गालापोगास आइलैंड पर ये इतने विशाल स्थान पर रहते थे कि इनकी आबादी बढ़ने में परेशानी आ रही थी। ऐसे में 1965 में डिएगो को 14 अन्य कछुओं के साथ कैप्टिव ब्रीडिंग प्रोग्राम के तहत दक्षिणी कैलिफोर्निया स्थित सांता क्रूज आइलैंड चिड़ियाघर में लाया गया था। डिएगो को सबसे पहले 12 फीमेल कछुओं के साथ रखा गया। पार्क के रेंजर बताते हैं कि इस दौरान कछुओं की आबादी 2000 बढ़ी। इसमें से 40 प्रतिशत यानी 800 कछुओं के जन्म में डिएगो की भूमिका रही है। करीब पांच दशक तक अपनी प्रजाति बढ़ाने में भूमिका निभाने के बाद उसे इसी साल मार्च में सेवानिवृत्त किया जा रहा है।
Dastak Times