X Close
X
9935100006

जंगल क्राय उपेक्षित लोगों की कहानी : अभय देयोल


Lucknow:अभिनेता अभय देयोल का कहना है कि फिल्म जंगल क्राय इस उदाहरण को दर्शाती है कि जाति व्यवस्था संबंधित चीजों में फंसे लोगों के लिए किस तरह से खेल नए-नए अवसरों को लेकर आती है। अभय ने बताया, यह एक बहुत ही अच्छी कहानी है। यह समाज में उपेक्षित या शोषित लोगों की कहानी है। यह अरमानों और उम्मीदों की कहानी है और इसके साथ ही यह इस बात का एक बहुत ही बेहतरीन उदाहरण है कि किस तरह से खेल उन लोगों के लिए नए अवसर लेकर आती है जो जाति व्यवस्था जैसी चीजों में जकड़े हुए हैं। जंगल क्राय एक स्पोर्ट्स बायोपिक है जो रग्बी कोच रुद्राक्ष जेना की जिंदगी पर आधारित है। फिल्म की कहानी कलिंगा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेस (केआईएसएस) के रग्बी टीम से प्रेरित एक सच्ची कहानी है। फिल्म में अभय, जेना का किरदार निभा रहे हैं। फिल्म दर्शकों को उन आदिवासी बच्चों के बारे में बताती है जो शून्य से शुरूआत कर इसे सीखते हैं और महज चार महीनों के अंदर ही यह टीम साल 2007 में ब्रिटेन में जूनियर वर्ल्ड कप को जीतने की ताकत रखता है। जंगल क्राय के ट्रेलर को इस बार के कान्स फिल्म फेस्टिवल में 19 मई को रिलीज किया गया था।
Dastak Times