X Close
X
9935100006

अब क्या पेड़ों और छतों पर टंगी मिलेंगी बाइक ?


Lucknow:मेरठ में दी गयी मोटरसाइकिल को फांसी, जानिये क्या है पूरा मामला  डूीजल-पेट्रोल के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन (फाइल) लखनऊ/मेरठ 29 जून, दस्तक (ब्यूरो): तेल कंपनियों द्वारा पेट्रोल डीजल की लगातार बधाई जा रही कीमतों को लेकर पूरे देश से लोगों के विरोध की तस्वीरें सामने आ रही है। इसी कड़ी में मेरठ शहर के NSUI कार्यकर्ताओं ने आज मेरठ कॉलेज के शताब्दी द्वार पर संगठन के प्रदेश अध्यक्ष रोहित राणा के नेतृत्व में मोटरसाइकिल को पेड़ पर फांसी के फंदे पर लटकाकर अनोखा प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने जमकर सरकार विरोधी नारे भी लगाये। प्रदर्शनकारी NSUI कार्यकर्ताओं ने मेरठ के कमिश्नरी पार्क स्थित मेरठ कॉलेज के गेट पर सरकार के खिलाफ हल्ला बोल प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं कहना था कि सरकार डीजल और पेट्रोल की कीमतें कम करें यह देश के हर वर्ग के लोगों पर महंगाई की मार है। अगर जल्द ही सरकार ने पेट्रोल डीजल की कीमतें नहीं घटाई तो मोटरसाइकिलें पेड़ों पर और छतों पर ही टंगी नजर आएंगी। 18 दिन में सरकार ने 18 बार डीजल पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोत्तरी है। सरकार ने डीजल की कीमत इस कदर बढ़ा दी है कि आम आदमी बेहद मुश्किल में आगया हैं। NSUI ने सरकार से की आम आदमी को राहत देने की मांग  कांग्रेस का प्रदर्शन NSUI प्रदेश अध्यक्ष रोहित राणा ने कहा कि आम आदमी की कमर पेट्रोल डीजल के रेट बढ़ने से टूट गई है ,इस समय अर्थव्यवस्था के हालात बद से बदतर हैं। लोगों के पास रोजगार नहीं है और सरकार ने पेट्रोल डीजल पर लगातार टैक्स बढ़ाकर जनता की जेब पर और बोझ डालने का काम कर रही है। इसलिए एनएसयूआई कार्यकर्ता मोदी सरकार से मांग करते हैं, आम आदमी को तत्काल राहत दी जाए जिससे वह अपना जीवन सही तरीके से जी सकें। महामारी के दौरान तेल के दामों में बढ़ोतरी समझ से परे-प्रदर्शनकारी  प्रदर्शनकारियों में शामिल कांग्रेस प्रवक्ता हरिकिशन अम्बेडकर ने कहा कि जिस दिन मोदी सरकार सत्ता में आई है, उस दिन से आम जनता त्राहि त्राहि कर रही हैं। कच्चे तेल के दाम विश्व में निम्न स्तर पर चल रहे हैं, ऐसे समय मे जब अंतराष्ट्रीय स्तर पर मूल्य भी कम है औऱ देश कॅरोना महा मारी से जूझ रहा है तो तेल के दामों बढ़ोतरी समझ से परे हैं।
Dastak Times